अमरावती में युती का पहला सम्मेलन १५ मार्च को


हिंस/दि.१३ मुंबई-आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी व शिवसेना के बीच युती होने तथा अब लोकसभा चुनाव की तारीखें घोषित हो जाने के चलते दोनों दलों के नेताओं द्वारा संयुक्त रूप से काम करने एवं रणनीति तय करने पर विचारविमर्श किया जाना शुरू कर दिया गया है. इसी के तहत बुधवार को शिवसेना के पार्टी प्रमुख उध्दव ठाकरे के निवास ‘मातोश्री’ पर दोनों दलों के नेताओं की संयुक्त बैठक हुई. जिसमें शिवसेना के पार्टी प्रमुख उध्दव ठाकरे तथा राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सहित युवा सेना अध्यक्ष आदित्य ठाकरे, शिवसेना नेता सुभाष देसाई, मिलींद नार्वेकर एवं भाजपा की ओर से चंद्रकांत दादा पाटिल व सुधीर मुनगंटीवार उपस्थित थे. इस बैठक में समूचे राज्य में दोनों दलों के नेताओं व पदाधिकारियों के संयुक्त सम्मेलन आयोजित किये जाने पर विचारविमर्श किया गया.

जिसके तहत युती पदाधिकारियों का पहला सम्मेलन शुक्रवार १५ मार्च को अमरावती में आयोजित करने का निर्णय लिया गया. युती पदाधिकारियों के संयुक्त सम्मेलन आयोजित करने को लेकर लिये गये निर्णय के मुताबिक युती का जायेगा. वहीं तीसरा सम्मेलन १७ मार्च को दोपहर संभाजी नगर (औरंगाबाद) में और १७ मार्च की रात नाशिक में चौथा सम्मेलन आयोजित किया जायेगा.इसके अलावा १८ मार्च की दोपहर नवी मुंबई में ५ वां तथा १८ मार्च की रात पुणे में छटवां सम्मेलन आयोजित किया जायेगा. आगामी १५ मार्च को अमरावती में आयोजित युती के पहले सम्मेलन को लेकर मिली जानकारी के मुताबिक १५ मार्च को सुबह सांस्कृतिक भवन में युती पदाधिकारियों का सम्मेलन आयोजित किया गया है. जिसमें राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस व शिवसेना के पार्टी प्रमुख उध्दव ठाकरे सहित शिवसेना नेता व उद्योगमंत्री सुभाष देसाई तथा भाजपा नेता व वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार एवं राज्यमंत्री व जिला पालकमंत्री प्रवीण पोटे के साथ ही युती यानी भाजपा व सेना के सभी विधायक प्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *