राधाकृष्ण पाटिल छोड़ सकते हैं पद, पार्टी?


हिं.सं. / दि.१३ मुंबई -महाराष्ट्र कांग्रेस में बड़ी राजनीतिक उठापटक की आशंका दिख रही है। सीनियर नेता और अहमदनगर से विधायक राधाकृष्ण विखे पाटिल विधानसभा में विपक्ष के नेता के पद से इस्तीफा दे सकते हैं। हमारे सहयोगी चैनल टाइम्स नाउ के मुताबिक पाटिल पार्टी भी छोड़ सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लग सकता है। हालांकि, इस बारे में कोई पुष्टि अभी नहीं हुई है।

बेटे के बाद छोड़ सकते हैं पद –
गौरतलब है कि पाटिल के बेटे सुजय पाटिल हाल ही में कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए थे।
दरअसल, कांग्रेस और एनसीपी के बीच सीटों को लेकर हुए समझौते के तहत अहमदनगर सीट एनसीपी को मिलनी थी। वहीं, सूत्रों का कहना है कि राधाकृष्ण को पार्टी में जो जगह मिलनी चाहिए, वह नहीं मिलती थी। इन दोनों कारणों को राधाकृष्ण पाटिल के पार्टी छोडऩे के कथित फैसले के पीछे की वजह माना जा रहा है। हालांकि, इसके बारे में कोई पुष्टि नहीं हुई है।

पिता के खिलाफ लिया फैसला
कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होने वाले सुजय ने कहा, ‘मैंने यह फैसला अपने पिता के खिलाफ लिया है। मुझे नहीं पता कि मेरे पैरंट्स इस फैसले का कितना समर्थन करेंगे, लेकिन बीजेपी के नेतृत्व में मैं अपना सबकुछ झोंक दूंगा ताकि मेरे माता-पिता गर्व महसूस कर सकें। सीएम (देवेंद्र फडणवीस) और बीजेपी विधायकों ने मेरे इस फैसले का पूरा समर्थन किया।

और भी नेता बदल सकते हैं दल

सुजय विखे पाटील के बीजेपी में शामिल होने के साथ ही अहमदनगर से कई अन्य प्रमुख नेता और विधायक बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। मौजूदा संकेतों के अनुसार, सुजय विखे पाटील को शायद अहमदनगर लोकसभा सीट से ही चुनाव लड़वाया जा सकता है। अहमदनगर को प्रसिद्ध विखे-पाटील परिवार का गढ़ माना जाता है और सुजय इस परिवार की चौथी पीढ़ी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *