अमरावती से भाजपा-सेना का शंखनाद


प्रतिनिधि/दि.१५ अमरावती-काफी लंबी ना- नुकूर और जबर्दस्त तनातनी के बाद आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर युती की शय्ल में एकसंघ हुए भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना ने संयुक्त रूप से अपनी चुनावी तैयारियों का आगाज शुक्रवार १५ मार्च को इंद्रपुरी कही जाती अंबानगरी अमरावती से किया. जिसके तहत समूचे राज्य के सभी संभागों में आयोजित किये जानेवाले युती पदाधिकारियों के सम्मेलनों की श्रृंखला के तहत पहला सम्मेलन शुक्रवार को अमरावती के संत ज्ञानेश्वर सांस्कृतिक भवन में आयोजित किया गया. जिसमें हिस्सा लेने हेतु शिवसेना के पार्टी प्रमुख उध्दव ठाकरे सहित राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस शुक्रवार की सुबह अमरावती पहुंचे. सांस्कृतिक भवन के सभागार में आयोजित युती पदाधिकारियों के इस सम्मेलन को संबोधित करते हुए जहां एक ओर सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भाजपा-सेना युती को फेविकॉल के जोड़ की तरह पूरी तरह मजबूत बताते हुए कहा कि, अब यह जोड़ तोडे से भी नहीं टूटेगा.

वहीं दूसरी ओर शिवसेनाके पार्टी प्रमुख उध्दव ठाकरे ने सीएम फडणवीस सहित भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों को बेहद नपेतुले अंदाज में सलाह दी कि, वे हर किसी को चुनावी संभावनाओं के मद्देनजर पार्टी में प्रवेश न दे और चुनाव पश्चात अपने लिये विरोधक यानी विपक्षी दल बाकी रखे. इस सम्मेलन के दौरान जिले के सांसद तथा सेना के संभावित प्रत्याशि आनंदराव अडसूल ने जिले में जारी राजनीतिक उठापटकवाले हालात के मद्देनजर बडी बेबाकी के साथ सीएम फडणवीस से जानना चाहा कि, आखिर बडनेरा निर्वाचन क्षेत्र के विधायक रविराणा व उनकी पत्नी नवनीत कौर राणा का भारतीय जनता पार्टी के साथ य्या रिश्ता है, जिस पर अपने संबोधन के दौरान जवाब देते हुए सीएम फडणवीस ने कहा कि, उन्हें (राणा) को अपनी पूंगी बजाने दो और हम अपना काम करते रहे. यहीं ज्यादा अच्छा रहेगा. सीएम फडणवीस द्वारा दिये गये इस जवाब के चलते पूरा सभागार हंसी के ठहाकों में डूब गया.

इस सम्मेलन में राज्य के वित्त व वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार, उद्योग मंत्री सुभाष देसाई एवं राज्यमंत्री सर्वश्री प्रवीण पोटे पाटिल, डॉ. रणजीत पाटिल, संजय राठोड, मदन येरावार तथा दीपक सावंत सहित अमरावती संभाग व वर्धा जिले के वर्तमान सांसद सर्वश्री आनंदराव अडसूल, संजय धोत्रे, प्रतापराव जाधव, भावना गवली एवं रामदास तडस मुख्य रूप से उपस्थित रहेंगे. साथ ही इस अवसर पर अमरावती जिले के अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करनेवाले सेना व भाजपा के विधायक सर्वश्री डॉ. सुनिल देशमुख, डॉ. अनिल बोंडे, प्रभुदास भिलावेकर, रमेश बुंदिले, चैनसुख संचेती, मिलींद नार्वेकर, सहित संभाग की सभी संसदीय सीटों में आनेवाले विधानसभा क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करनेवाले भाजपासेना विधायक, महापौर संजय नरवणे, भाजपा

के अमरावती जिला ग्रामीण अध्यक्ष प्रा. दिनेश सूर्यवंशी व शहराध्यक्ष जयंत डेहनकर एवं अमरावती संभाग के पांचों जिलों से भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष व शहराध्यक्ष सहित विभिन्न आघाडियों, मोर्चों व सेल के प्रमुख पदाधिकारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे. इस समय आयोजनकी प्रस्तावना रखते हुए जिले के सांसद आनंदराव अडसूल ने कहा कि, युती के तहत इस चुनाव में देश का पहला सम्मेलन अमरावती में हो रहा है. यहीं से जीत की पताका अपना सफर शुरू करें, ऐसी अपेक्षा है. उन्होंने कहा कि, भाजपा और सेना में कभी भी कोई दूरी पैदा नहीं हुई थी. किंतु एक अपक्ष विधायक द्वारा सेना के ही नहीं बल्कि भाजपा के नेताओं, पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को लेकर बेहद स्तरहीन भाषा का प्रयोग किया जा रहा है. हमें उम्मीद थी कि, युति होने के बाद यह मामला रूकेगा, किंतु यह आलोचनाएं रूकने की बजाय और अधिक बढ रहीं है.

अत: सीएम फडणवीस ने इस बारे में युती के नेताओं व पदाधिकारियों को आश्वास्त करना चाहिए, य्योंकि उस निर्दलीय विधायक द्वारा हमेशा ही सीएम फडणवीस के साथ अपने नजदिकी संबंधों का हवाला दिया जाता है. अत: सीएम फडणवीस ने ही इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए. वहीं इस समय राज्य के वित्त व नियोजन मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने व-हाडी भाषा के शब्द ‘बोहनी’ का प्रयोग करते हुए इस बात को लेकर आनंद व्यक्त किया कि, दोनों ही दलों के एकत्रित प्रचार का शुभारंभ धार्मिक, बौध्दिक व अध्यात्मिक शक्तिपीठ कहें जानेवाले अमरावती से हो रहा है. साथ ही उन्होंने देश को विश्व में सम्मानपूर्वक स्थान हासिल कराने हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भरोसा रखने का आवाहन किया. साथ ही उन्होंने कहा कि, जिस कांग्रेस पार्टी ने भारतरत्न बाबासाहब आंबेडकर को पराजीत करने का पाप किया है, उस कांग्रेस पार्टी को अब हद्दपार करने की जरूरत है. वहीं इस समय भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सांसद रावसाहब दानवे ने कहा कि, कांग्रेस सहित अन्य विरोधी दलों के पास विरोध करने हेतु कोई मुद्दे ही नहीं है. अत: वे बेसिरपैर के आरोप लगा रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *