चंद घंटे में दोनों हत्यारे दबोचे गये


नांदगांव पेठ- पुरानी रंजिश के चलते पिंपलविहीर के पूर्व सरपंच के पुत्र की धारदार हथियारों से हत्या किए जाने की घटना डिगरगव्हाण में आयोजित दामोदर महाराज के यात्रा समारोह में कल शाम ६ बजे घटी. नांदगांव पेठ पुलिस ने घटना के पश्चात दोनों आरोपियों को चंद घंटे में धर दबोचा. पूर्व सरपंच पुत्र अपने दोस्तों के साथ यात्रा घूमने गया था. समीर गणेश कांबले (२५, पिपलविहीर ) यह धारदार हथियार से किए गये हमले में मरनेवाले पूर्व सरपंच पुत्र का नाम है. समीर सौदागर व सादिक सौदागर (माहुली जहांगीर) यह हत्या करनेवाले गिरफ्तार किए गये दोनों आरोपियों का नाम है. समीर पूर्व सरपंच गणेश कांबले का पुत्र बताया जाता है. कल वह अपने मित्रों के साथ गांव के समीप डिगरगव्हाण में आयोजित दामोदर महाराज महोत्सव यात्रा में गया था. शनिवार की शाम ५ बजे समीर व उसके मित्र यहां के जम्पींग शॉप में गये थे. इस समय समीर के मित्र की दुकान मालिक से तूतू मैं-मैं हुई. माफी मांगने के बाद भी विवाद बढ़ता गया. तब दुकान मालिक ने लोगों को इकट्ठा किया और अपने पास से चाकू निकालकर हमला किया. इस हमले में समीर गंभीर रूप से घायल हो गये.

समीर के साथ उसके दोस्त भी घायल हुए है. इस घटना के कारण यात्रा मेें जबर्दस्त भगदड़ मच गई. घटना के बाद समीर के दोस्तों ने मोटर साइकिल पर बिठाकर उसे इलाज के लिए अमरावती जिला अस्पताल में लाया. मगर इलाज के दौरान समीर की मौत हो गई. घटना की जानकारी मिलते ही समीर के रिश्तेदार बड़ी संख्या में जिला अस्पताल पहुंचे.जिससे जिला अस्पताल में भी तनाव की स्थिति निर्माण हो गई थी. इस पर सिटी कोतवाली पुलिस ने जिला अस्पताल में जाकर स्थिति पर नियंत्रण पाया. इस मामले में पुलिस ने घटनास्थल का पंचनामा कर अपराध दर्ज करने के बाद घटना के चंद घंटों में ही आरोपी समीर सौदागर और सादिक सौदागर को देर रात के वक्त घर से उठा लिया. पुलिस आज दोनों आरोपियों को अदालत में पेश कर पुलिस कस्टडी में लेने के बाद आरोपी से कडी पूछताछ में हत्या करने का सही कारण पता चल पायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *