वर्धा नदी में डूबे आदिवासी युवक की मौत


प्रतिनिधि/दि.२२ धामणगांव रेल्वे- रंगपंचमी के त्यौहार में रंग खेलने के बाद नहाने के लिए गये ६ युवकों में से एक युवक की डूबने के कारण मौत हो गयी. जबकि पांच लोगों को बचा लिया गया.यह घटना आष्ठा परिसर के वर्धानदी में कल दोपहर १ बजे घटी.विशाल गणेश उईके (१८) यह वर्धा नदी में डूबने के कारण मरनेवाले युवक का नाम है, राहुल गजानन चव्हाण (२५), ऋषीकेश अशोक मोहिते (२०), गुड्डु गजानन गेडाम (२२), सुरज दिवाकर पंधरे (२४), आकाश रामदास पवार (२६),यह बचाये गये युवकों का नाम है. जानकारी के अनुसार तहसील के निंबोली भोंगे निवासी ६ युवक रंगपंचमी खेलने के बाद दोपहर १२ बजे ८ किलो मीटर दूरी पर स्थित आष्टा गांव के पास स्थित वर्धा नदी में नहाने के लिए गये. सभी ६ युवक तैरने के लिए नदी में उतरे.

विशाल को पानी की गहराई का अनुमान नहीं था. इस वजह से वह अधिक गहराई में चला गया. कुछ देर बाद उसकी डूबने की आवाज सुनाई आई. तब पांचों युवकोंं ने जोर-जोर से चिखपुकार शुरू की.यह सुनकर गांववासि दौडकर आये.परंतु तबतक उसकी मौत हो गयी थी. इस घटना की सूचना मिलते मंगरूल दस्तगीर के टीम ने घटनास्थल पहुंचकर लाश बाहर निकालकर घटनास्थल का पंचनामा किया. और लाश पोस्टमार्टम के लिए रवाना की.

माँ मैं नहाकर वापस आता हूं-

पिता ७ वर्ष पूर्व दिल का दौरा पढने के कारण मौत होने के बाद विशाल पर पूरे परिवार की जिम्मेदारी थी. एक बहन विवाह करने की बाकी है. माँ मैं नहाकर आष्टा से वापिस आता हूं, ऐसा माँ को बताकर विशाल वर्धा नदी में नहाने के लिए गया था. मौत की खबर सुनते ही माँ की दुनियां उजाड गयी, ऐसी जानकारी पुलिस पटेल विवेक वैरागडे ने दी. मंगरूल दस्तगिर के थानेदार सतीश आडे, पुलिस उपनिरीक्षक ठावरे, देवेंद्र नस्करी, निस्ताने इस मामले की जांच कर रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *