दर्यापुर फाटे के पास ८० गौवंश से लदा कंटेनर पकड़ा

प्रतिनिधि/दि.१४ आसेगांव पूर्णा-गोवंश की तस्करी करने के लिए तस्कर नयेनये तरीके ऐख्तियार कर रहे है.कल रात के वक्त आसेगांव पूर्णा पुलिस थाना क्षेत्र के दर्यापुर फाटे के पास पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर वाहन की ढुलाई करनेवाले एक कंटनेर से ८० गोवंश पकडे. सभी गोवंश गंभीर घायल अवस्था में है.इनमें से २२ मवेशियों की मौत हो चुकी है.घायल मवेशियों को सलाईन
चढाकर गौरक्षण रवाना किया गया है.पुलिस ने मध्यप्रदेश के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर कंटेनर
समेत ३४.५८ लाख रूपए का माल बरामद किया है.

अय्युब अली कुदरती अली (५३, कंटेनर चालक,मोती कॉलनी बैरासिया
तहसील हुजूर जिला भोपाल मध्यप्रदेश) अखबर खॉ बाबु खॉ (२३,बरखेडा
कला आलोट जिला रतलाम मध्यप्रदेश), वकील अली अजीज अली
(२३,सारंगपुर राजगड मध्यप्रदेश),माजीद उर्फ गब्बर खॉ शफिक खॉ
(२६,सारंगपुर जिला राजगड मध्यप्रदेश) यह गिरफ्तार किये गये चारों
आरोपियों का नाम है. मिली जानकारी के अनुसार आसेगांव पूर्णा पुलिस को
गुप्त सूचना मिली कि,अवैध तरीके से गोवंश की तस्करी कत्ल के लिए की
जा रही है.इस सूचना के आधार पर पुलिस ने दर्यापुर फाटे के पास नाकाबंदी
कर १० चका कंटेनर क्रमांक युपी-२१-सीएन -२६४६ नी परतवाडा की
ओर से आते दिखाई दिया. पुलिस ने उसे रोकने का प्रयास किया परंतु वाहन
चालक ने कंटेनर तेज गति से वहां से चलाते हुए भाग खडा हुआ.पुलिस ने
सामने पॉयलेटिंग करनेवाले स्विट डिजायलर कार क्रमांक एमपी-०९०१४३
का पीछा किया जब कार में बैठे लोगों को भनक लगी तो वे भाग
खडे
हुए.

पुलिस ने आगे जाकर कंटेनर रोककर उनसे पूछताछ की तो उन्होंने
बताया
कि, सामने पॉयलेटिंग करनेवाली कार में फिरोज के साथ अन्य तीन
लोग
भी होने की बात पता चली. पुलिस ने कंटेनर में ठुसकर भरे गये ७८
बैल, गोरे, ऐसे कुल १९ लाख ५० हजार रूपए कंटनेर, १५ लाख आरोपी
का मोबाईल ८ हजार रूपए ऐसे कुल ३४ लाख ५८ हजार रूपए का माल
जप्त किया गया.पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर विभिन्न धाराओं
के तहत अपराध दर्ज किया है.पुलिस ने ५८ गोवंश को विनायकराव गाढवे
के शिवशक्ति गौरक्षण सेवाभावी संस्था रासेगांव के लिए रवाना किया.खबर
यह भी है कि, पकडे गये ८० में से २२ गोवंश की मौत हो गयी है.

शेष
गोवंश को गौरक्षण में ले जाया गया इसमें से अधिकांश गोवंश गंभीर घायल
है तब पुलिस ने पशु स्वास्थ्य अधिकारी व उनकी टीम को बुलाया.डॉय्टर
ने सभी घायल मवेशियों को सलाईन चढाकर इलाज शुरू किया है. इस
कारवाई में पुलिस अधीक्षक दिलीप झलके, अप्पर पुलिस अधीक्षक जयंत
मिना के मार्गदर्शन में पुलिस निरीक्षक सुनील किनगे, सहायक पुलिस निरीक्षक
किरण वानखडे, एएसआई वासुदेव नागलकर, हेडकॉन्स्टेबल शकुर शेख,
देविदास शेंडे, दिनेश कनोजीया,अमोल केंद्रे, मुकूंद कडु, अब्दुल सईद,
यातायात विभाग के शंकर मावसे, प्रदीप रायबोले का समावेश था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *