समुद्री आतंकी हमले की आशंका


नई दिल्ली-नौसेना प्रमुख ऐडमिरल सुनील लांबा ने कहा कि पुलवामा हमले पर बिना नाम लिए पाकिस्तान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भारत को अस्थिर करने की चाहत रखने वाले एक देश से सहायता प्राप्त चरमपंथियों ने यह हमला अंजाम दिया था। नौसेना प्रमुख ने यह भी कहा कि समुद्री मार्ग समेत दूसरे तरीकों से भारत में आतंकी हमले अंजाम देने के लिए प्रशिक्षण देने की भी खबरें हमारे पास है।

समुद्र मार्ग से आतंक को अंजाम देने की हो रही ट्रेनिंग-

नौसेना प्रमुख ने समुद्र मार्ग से आतंक को अंजाम देने की आशंका जताते हुए कहा, हमारे पास ऐसी भी खबरें हैं कि आतंकवादियों को समुद्री मार्ग सहित विभिन्न तरीकों से हमलों को अंजाम देने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

जम्मू- कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा किए गए आत्मघाती हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे। बता दें कि 26/11 का आतंकी हमला अंजाम देने के लिए भी आतंकी समुद्र मार्ग के जरिए ही भारत में घुसे थे।

नौसेना प्रमुख ने कहा, आतंकवाद वैश्विक चुनौती-

हिन्द-प्रशांत क्षेत्रीय संवाद में रक्षा क्षेत्र से जुड़े वैश्विक विशेषज्ञों और राजनयिकों को संबोधित करते हुए नौसेना प्रमुख ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि कि हाल के वर्षों  में क्षेत्र ने कई तरह का आतंकवाद देखा है। विश्व के इस हिस्से में कुछ ही देश इसकी जद में आने से बच पाए हैं। उन्होंने आतंकवाद को वैश्विक चुनौती करार देते हुए कहा कि आतंकवाद ने हाल में जो वैश्विक रुख अपनाया है, उससे यह खतरा और बढ़ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *